VIDEO: रिमांड होम या अपराधियों का अड्डा

0
6



आज तक आपने फ़िल्मों में देखा होगा कि अपराधी जेल से बाहर आकर घटना का अंजाम देते हैं और फिर जेल में चले जाते हैं लेकिन बिहार के सीवान में अपराध का ये कन्सेप्ट सच हुआ है. छपरा रिमांड होम से चार बाल कैदी सीवान आकर 26 मार्च की शाम को शहर के दवा व्यवसायी अनिल को लूटपाट की नीयत से गोली मार कर फरार हो जाते हैं और फिर उसी रात बाल सुधार गृह छपरा चले जाते हैं. इसका खुलासा सीवान पुलिस ने किया है. ये शायद पहली घटना है जिसने रिमांड होम की व्यवस्था पर एक साथ कई सवाल खड़े कर दिए हैं. इस वारदात के अलावे अपराध जगत की और कई कहानियां ‘तफ्तीश’ में दर्ज हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here