IPL 2018: Kolkata Skipper Dinesh Karthik Has High Praise for Wrist Spinners

0
3


नई दिल्ली: नीतिश राणा (59), आंद्रे रसैल (41) के बाद कोलकाता की सुनील नरेन, कुलदीप यादव और पीयूष चावला की स्पिन तिगडी ने दिल्ली को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में दूसरी जीत से महरूम कर दिया. कोलकाता ने पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली के सामने 201 रनों की चुनौती रखी थी, लेकिन कुलदीप, सुनील और चावला की फिरकी में दिल्ली फंस गई और 14.2 ओवरों में 129 रनों पर ढेर हो कर 71 रनों से मैच हार गई. मैच के बाद कोलकाता के कप्तान दिनेश कार्तिक ने जीत का श्रेय स्पिनरों को दिया. 

कोलकाता के ईडन गार्डन्स मैदान पर खेले गए मैच में नीतीश राणा और आंद्रे रसैल ने बल्लेबाजी में शानदार परफॉर्म किया और कोलकाता ने 20 ओवरों में 9 विकेट खोकर 200 रन बनाए. कोलकाता की स्पिन तिकड़ी सुनील नरेन, पीयूष चावला और कुलदीप यादव ने गेंदबाजी में शानदार प्रदर्शन करके दिल्ली की पूरी टीम को 129 रनों पर ढेर कर दिया और मैच 71 रनों से जीत लिया. 

कोलकाता के कप्तान दिनेश कार्तिक ने कहा कि इन तीनों स्पिनरों का इतना प्रभाव था कि उन्होंने सात विकेट चटकाए. कार्तिक ने टीम के स्पिनरों के प्रदर्शन पर संतोष प्रकट किया. मैच के बाद कार्तिक ने कहा, मुझे लगता है कि रिस्ट स्पिनर आईपीएल में अपने मकसद को पूरा करने में कामयाब हो रहे हैं. इन्होंने टीम के लिए बढ़िया काम किया है. ये तीनों ही टाप क्लास स्पिनर हैं. 

श्रेयस अय्यर पहली स्लिप पर कैच आउट हुए थे. इस पर कार्तिक ने कहा कि हम योजना के साथ आगे बढ़ रहे थे. मैच में सबसे महत्वपूर्ण नीतीश राणा द्वारा पकड़ा गया कैच था. अंत में जीत ही है जो आपकी टीम को खुश रखती है. यह हमारे लिए एक अच्छा दिन था. 

इस बीच दिल्ली के कप्तान गौतम गंभीर ने जीत का श्रेय कोलकाता की शानदार परफॉर्मेंस को दिया. उन्होंने कहा, एक बार हमें लग रहा था कि हम उन्हें 170-175 तक रोक देंगे. हमने बाद में कोशिश की, लेकिन उनके तीनों क्वालिटी स्पिनरों ने हमें टिकने नहीं दिया. 

कोलकाता के स्पिनरों के सामने फेल हुए दिल्ली के बल्लेबाज 
दिल्ली के सिर्फ दो बल्लेबाज दहाई के आंकड़े में पहुंच सके. ग्लैन मैक्सवेल ने सर्वाधिक 47 रनों की पारी खेली जिसमें उन्होंने 22 गेंदों का सामना किया और तीन चौकों के अलावा चार छक्के लगाए. उनके अलावा ऋषभ पंत ही दहाई के आंकड़े में पहुंच सके. पंत ने 26 गेंदों में सात चौके और एक छक्के की मदद से 43 रनों की पारी खेली. 

विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी दिल्ली को चावला ने पहले ओवर में ही बड़ा झटका दे दिया. ओवर की चौथी गेंद पर चावला ने खतरनाक जेसन रॉय (1) को पवेलियन भेज दिया. रसैल ने दूसरे ओवर में श्रेयस अय्यर को अपना शिकार बनाया और फिर तीसरे ओवर की आखिरी गेंद पर शिवम मावी ने गौतम गंभीर को बोल्ड कर दिल्ली का स्कोर 24 रनों पर तीन विकेट कर दिया. 

दूसरे छोर पर पंत थे और अब क्रीज पर मैक्सवेल भी आ चुके थे. दोनों ने रन बरसाने चालू किए. पंत अर्धशतक की ओर बढ़ रहे थे, तभी कुलदीप ने उन्हें 86 के कुल स्कोर पर चावला के हाथों कैच कराया. राहुल तेवतिया को टॉम कुरैन ने अपना शिकार बनाया. कुलदीप ने मैक्सवेल को भी अर्धशतक पूरा नहीं करने दिया. 

क्रिस मौरिस रौद्र रूप अपनाते उससे पहले नरेन ने उन्हें बोल्ड कर आईपीएल में अपने 100 विकेट पूरे किए. वह आईपीएल में 100 विकेट पूरे करने वाले पहले विदेशी खिलाड़ी बन गए हैं. 

नरेन का अगला शिकार विजय शंकर (2), मोहम्मद शमी (7) बने. कुलदीप ने ट्रैंट बाउल्ट को अपनी ही गेंद पर कैच कर दिल्ली को समेट दिया. कोलकाता के लिए कुलदीप यादव और सुनील नरेन ने तीन-तीन विकेट लिए. पीयूष चावला, आंद्रे रसैल, शिवम मावी और टॉम कुरैन ने एक-एक विकेट लिया. 

(आईएएनएस इनपुट के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here