हिंदी न्यूज़ – Interesting Lies Women Tell Men/लड़कों, जब लड़कियां ये बातें बोलें तो उसका मतलब उल्टा होता है

0
2


लड़कियों को समझना टेड़ी खीर है नहीं, ये तो हमें नहीं मालूम. पर हां उनकी कुछ बातों का मतलब उनके शब्दों से उलट होता है. अक्सर जब वे किसी बात से आहत होती हैं तो कभी नहीं जतातीं. मसलन अगर उन्हें पार्टनर के साथ बिताने के लिए समय नहीं मिल पा रहा तो वे ये बात उससे सीधे सीधे नहीं कहेंगी. उससे कहेंगी जाओ तुम घूमो. मज़े करो.

बिना कैश के सस्ते में करें घूमने की प्लानिंग, 5 टिप्स से बनेगी शानदार ट्रिप

लड़की जब कहती है, आज तक मुझे कोई पसंद ही नहीं आया. तो यह सरासर झूठ है. कहीं न कहीं, कोई न कोई ऐसा जरूर मिला होगा जिसे देखते रहना, उससे बातें करना, उसके आसपास बने रहना अच्छा लगा हो.

क्यों करते हैं दूसरों की ज़िंदगी में ताकझांक ? ये आपका शौक़ तो नहींमैं दूसरी लड़कियों जैसी नहीं. वे ये बात उन्हीं से कहती हैं, जिन्हें इंप्रेस करना चाह रही हों. वे उन्हें बताना चाहती हैं कि वो अलग हैं.

आपसे नहीं हो रहा तो रहने दो, मैं कर लूंगी. ऐसा वे इसलिए बोलती हैं, ताकि लड़के जल्द से जल्द काम ख़त्म करें. सामने वाला ऐसा सुनने के बाद चुनौती स्वीकार कर तुरंत काम ख़त्म करने में जुट जाता है.

आपको जो अच्छा लगे वो करो, मुझे कोई प्रॉब्लम नहीं. वो अच्छी तरह जानती हैं कि साफ़-साफ़ कह देने से सामने वाले को बुरा लग सकता है. अगली बार वो ऐसा जवाब दें, तो समझ जाइए आपको क्या करना है?

जाओ, अपने दोस्तों के साथ मज़े करो. अगर उन्हें पार्टनर के साथ बिताने के लिए समय नहीं मिल पा रहा तो वे ये बात उससे सीधे सीधे नहीं कहेंगी. उससे कहेंगी जाओ तुम घूमो. मज़े करो.

जो हाथ लगा, उठाकर पहन लिया. ऐसा वे अपनी तारीफ सुनकर कह देती हैं. उसने जो पहना है, वो आपको ख़ास नहीं लगा. इससे पहले आप कुछ कहें, उससे पहले ही वो कह देती है जो हाथ लगा उठाकर पहन लिया कहकर.

मैं आपके लिए पागल नहीं हूं. ग़ुस्से में वे अक्सर यह झूठ बोलती हैं. पार्टनर को पता होता है कि वे उनसे बहुत प्यार करती हैं, पर सच बताकर अहमयित कम होने का डर सताता है.

ये मैं पहली बार कर रही हूं. कोई काम अच्छा नहीं हो या बिगड़ जाए, तो वे ऐसा बोलती हैं. ताकि उनको कोई दोष न दे.

कुछ नहीं हुआ, मैं ठीक हूं. जब वे पार्टनर से ऐसा कह रही है, तो समझ जाइए कि कुछ भी ठीक नहीं है. वे अपनी परेशानी दूसरों को बताकर परेशान करने की बजाय ख़ुद ही हल निकालना सही समझती हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here