हिंदी न्यूज़ – फ्रेंच ओपन: शारापोवा को हराकर सेमीफाइनल में पहुंची मुगुरूजा, हालेप से होगी भिड़ंत

0
2


शीर्ष वरीय और दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी सिमोना हालेप ने एक सेट पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए एंजेलिक कर्बर को हराकर फ्रेंच ओपन महिला एकल वर्ग के सेमीफाइनल में प्रवेश किया.

अब शनिवार को फाइनल में जगह बनाने के लिए उनका सामना स्पेनिश खिलाड़ी गार्बियने मुगुरूज़ा से होगा जिन्होंने एकतरफा क्वार्टरफाइनल मुकाबले में रूसी स्टार मारिया शारापोवा को आसानी से पस्त किया.

साल 2014 और 2017 में फ्रेंच ओपन की उप विजेता रहीं हालेप ने कर्बर को 6-7, 6-3, 6-2 से मात देकर तीसरी बार फ्रेंच ओपन के अंतिम चार में जगह सुनिश्चित की. वहीं 2016 में पेरिस में चैम्पियन बनी तीसरी वरीय मुगुरूज़ा ने शारापोवा को आसानी से 6-2, 6-1 से शिकस्त दी.

साल 2015 के बाद पहली बार रोलां गैरो में खेल रही शारापोवा को 2012 ऑस्ट्रेलियन ओपन फाइनल में विक्टोरिया अज़ारेंका के खिलाफ 3-6, 0-6 की हार झेलनी पड़ी थी.हालेप ने टूर्नामेंट में दूसरी बार एक सेट से पिछड़ने के बाद जीत हासिल की और 12वीं वरीय कर्बर की 1999 में स्टेफी ग्राफ के बाद अंतिम चार में पहुंचने वाली जर्मनी की पहली खिलाड़ी बनने की कोशिश भी नाकाम कर दी.

दो बार की मेजर विजेता कर्बर ने पहले सेट में 4-0 से बढ़त बनाई और इसके बाद टाइब्रेकर में आगे हो गयीं. पर हालेप ने इसके बाद दो सेट अपने नाम कर अगले दौर में जगह बनाई.

मुगुरूज़ा ने टूर्नामेंट में अभी तक एक भी सेट नहीं गंवाया है. उन्होंने कहा, “मुझे पेरिस में एक और फाइनल में पहुंचने पर काफी खुशी होगी. मैं एक महान खिलाड़ी के खिलाफ खेल रही थी तो मुझे अपना सर्वश्रेष्ठ टेनिस खेलना था.”

डोपिंग बैन के कारण शारापोवा 2016 का टूर्नामेंट नहीं खेल सकीं थी और पिछले साल उन्हें वाइल्ड कार्ड देने से इनकार कर दिया गया था. मुगुरूज़ा ने छह बार उनकी सर्विस तोड़ी और 27 अनफोर्स्ड गलतियां कीं. शारोपावा की 25 ग्रैंडस्लैम क्वार्टरफाइनल में यह पांचवीं हार थी. मुगुरूज़ा ने शुरू से ही दबदबा बनाया और शारापोवा की गलतियों का फायदा उठाकर 4-0 से बढ़त हासिल कर ली जिसमें डबल ब्रेक भी शामिल था.

शारापोवा पहले गेम में तीन डबल फॉल्ट के सदमे से नहीं उबर सकीं. पहले सेट के अंत में पांच बार की ग्रैंडस्लैम विजेता ने मुगुरूज़ा के खिलाफ केवल आठ अंक जीते और एक भी ब्रेक प्वाइंट नहीं बना सकीं. रूसी खिलाड़ी तीन साल में पहली बार क्वार्टरफाइनल में पहुंचने में सफल रही क्योंकि सेरेना विलियम्स ने चोट के कारण उन्हें वॉकओवर दे दिया था.

मुगुरूज़ा ने दूसरे सेट के पहले गेम में 31 वर्षीय शारापोवा की सर्विस तोड़ दी लेकिन उन्होंने जल्द ही भूल सुधार ली. लेकिन 24 साल की विम्बलडन चैम्पियन मुगुरूज़ा ने डबल ब्रेक से स्कोर 4-1 के बाद 5-1 कर लिया.

अगले गेम में शारापोवा का बैकहैंड शॉट वाइड चला गया और मुगुरूज़ा अगले दौर में पहुंच गईं. अब गुरुवार को दूसरे सेमीफाइनल में अमेरिकी ओपन चैंपियन स्लोएन स्टीफंस का सामना साथी खिलाड़ी मेडिसन कीज से होगा जो फ्लशिंग मिडोज में 2017 फाइनल का दोहराव होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here