हिंदी न्यूज़ – डेटा ब्रीच मामले में फेसबुक सरकार को दे स्पष्टीकरण-Government seeks explanation from Facebook over reports of data sharing without explicit consent

0
2


बिना सहमति डेटा साझा करने पर सरकार ने मांगा Facebook से जवाब

डेटा ब्रीच मामले में फेसबुक सरकार को दे स्पष्टीकरण

News18Hindi

Updated: June 7, 2018, 6:42 PM IST

केंद्र सरकार ने यूजर की स्पष्ट सहमति के बिना डेटा साझा करने से जुड़ी रिपोर्ट्स को लेकर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म Facebook से जवाब मांगा है. हाल में मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि Facebook ने ऐसे एग्रीमेंट कर रखे हैं, जो कि फोन और दूसरे डिवाइस मैन्युफैक्चर्स को उसके यूजर्स की पर्सनल इंफॉर्मेशन तक पहुंच बनाने की इजाजत देते हैं. रिपोर्ट्स में कहा गया था कि स्पष्ट सहमति के बिना यूजर्स और उनके दोस्तों की भी पर्सनल इंफॉर्मेशन का साझा किया जा रहा है. केंद्र सरकार ने इस तरह के उल्लंघन से जुड़ी रिपोर्ट्स को लेकर गंभीर चिंता जताई है.

फेसबुक पर 60 कंपनियों से डेटा साझा करने का आरोप
केंद्र सरकार ने कैंब्रिज एनालिटिका एपिसोड के बाद Facebook को पर्सनल डेटा में सेंधमारी को लेकर नोटिस भेजे थे. इन नोटिस के बाद फेसबुक ने माफी मांगी थी और केंद्र सरकार को आश्वासन दिया था कि वह अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर यूजर्स की प्राइवेसी को सुरक्षित रखने के लिए हरसंभव कदम उठाएगा. हालांकि, हालिया रिपोर्ट्स सामने आने के बाद मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी से फेसबुक से इस मामले में विस्तृत रिपोर्ट मांगी है. हाल ही में एक रिपोर्ट में इस बात का भी खुलासा हुआ था कि फेसबुक ने एप्पल, सैमसंग और माइक्रोसॉफ्ट समेत 60 कंपनियों को यूजर्स के डेटा मुहैया कराए. इस मामले में शुरुआत में फेसबुक ने यूजर्स के डेटा साझा करने की बात से इनकार किया था. हालांकि, बाद में फेसबुक ने स्वीकार किया कि उसने चार चाइनीज कंपनियों को अपने यूजर्स के डेटा उपलब्ध कराए थे.

कैंब्रिज एनालिटिका एपिसोड में अमेरिकी कांग्रेस में पेश हुए थे जकरबर्ग कैंब्रिज एनालिटिका मामले में फेसबुक की दुनिया भर में किरकिरी हुई थी. इस मामले में फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग को अमेरिकी कांग्रेस के सामने पेश होना पड़ा था और सफाई देनी पड़ी थी. फेसबुक पर आरोप था कि उसने अपने यूजर्स के डेटा कैंब्रिज एनालिटिका को दिए और जिनका इस्तेमाल अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनावों को प्रभावित करने में किया गया. फेसबुक पर आरोप हैं कि उसने ब्रेग्जिट के जनमत संग्रह पर भी असर डाला था.

News18 Hindi पर Jharkhand Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Tech News in Hindi यहां देखें.

और भी देखें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here