हिंदी न्यूज़ – क्राइम में नया ट्रेंड : आपसी रंजिश को साधने के लिए भाड़े के शूटरों का हो रहा है इस्तेमाल-New trends in crime: Professional shooters are being used to handle mutual rigging in patna

0
4


Exclusive : आपसी रंजिश में भाड़े के शूटरों का हो रहा है इस्तेमाल

पटना के अपराध में नया ट्रेंड (news18)

Sanjay Kumar

Sanjay Kumar

| ETV Bihar/Jharkhand

Updated: February 12, 2018, 11:41 AM IST

राजधानी पटना में हाल के महीनों में हुई हत्या के कई मामलों की जांच में चौकानेवाले खुलासे हुए हैं. पुलिस जांच में यह बात सामने आयी है कि लोग आपसी रंजिश को साधने के लिये भाड़े के शूटरों का इस्तेमाल कर रहे हैं. हालात यह है कि कई कॉन्ट्रैक्ट किलर महज चंद रुपयों की लालच में किसी की भी जान लेने को तैयार हैं.

हाल में सुपारी किलिंग के मामले 

16 मई 2017- फतुहा में राजद नेता पप्पू यादव हत्याकांड (2 लाख की सुपारी)
10 अगस्त 2017 -दानापुर नगर पार्षद केदार राय हत्याकांड (5 लाख की सुपारी)10 अगस्त 2017- बेउर में राजीव कुमार हत्याकांड (5 लाख की सुपारी)
12 सितंबर 2017 – मिथिला कॉलोनी में रामचंद्र झा हत्याकांड ( सुपारी लेने का खुलासा)
2 दिसंबर 2017 – बिहटा में सिनेमा मालिक निर्भय सिंह हत्याकांड (2 लाख की सुपारी)
24 जनवरी 2017– पीएमसीएच के पास दवा व्यवसायी हत्याकांड (6 लाख की सुपारी)
1 जनवरी 2018 – नौबतपुर में अजय सिंह हत्याकांड ( 1 लाख की सुपारी)

पटना के एसएसपी मनु महाराज ने भी स्वीकार किया कि राजधानी में अपराध में कॉन्ट्रैक्ट किलर का इस्तेमाल किया जा रहा है. एसएसपी की माने तो प्रोफाइल के हिसाब से कीमत तय हो रही और इसमें रिश्ते को भी नजर अंदाज किया जा रहा.

मनु महाराज ने कहा, ” कॉन्ट्रैक्ट किलिंग के ट्रेंड दिख रहे हैं. हाल के दिनों में कई ऐसे मामले आए हैं. दानापुर, बख्तियारपुर, बिहटा में अपराधियों को हायर कर हत्याएं करवाई गई है. हमलोग की पूरी नजर है और सभी मामलों में कार्रवाई की जा रही है.”

राजाधनी में चल रहे कॉट्रेक्ट किलर गिरोह 

1.अमित गिरोह- पिछले तीन साल से बिहटा में सक्रिय,सरगना फरार
2. मुचकुन गिरोह- नौबतपुर का सक्रिय गिरोह, 12 लोग शामिल, सरगना फरार
3.शर्मा गिरोह – दीघा और दानापुर में सक्रिय,सरगना दुर्गेश जेल में
4.गुलाब गिरोह – नौबतपुर का गिरोह,सरगना गुलाब जेल में
5.भौसिया गिरोह – सरगना सुनील,पटना सिटी में सक्रिय, सरगना जमानत पर
6.चुहवा गिरोह – शास्त्रीनगर में सक्रिय,सरगना रजनीश फरार
7.छिमी गिरोह – पूरे पटना में सक्रिय,,सरगना तहबीज, 15 लोग शामिल

राज्य पुलिस मुख्यालय भी अपराध के नये ट्रेंड्स को लेकर काफी गंभीर है. एडीजी मुख्यालय एस के सिंघल ने माना कि हालात से निबटना होगा और पुलिस कार्रवाई कर रही है. बहरहाल, राजधानी में बढ़ते अपराध से जूझ रही पटना पुलिस के लिये इन गिरोहो पर अंकुश लगाना एक बड़ी चुनौती है.

IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Bihar News in Hindi यहां देखें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here