हिंदी न्यूज़ – इस राशि के लोग लंबी यात्रा पर जा सकते हैं, अचानक धन की प्राप्ति हो सकती है/rashifal in hindi weekly horoscope

0
2


हर दिन एक जैसा नहीं होता. कभी कोई दिन शुभ समाचार की सौगात लाता है तो कभी आपके सामने चुनौतियां खड़ी कर देता है. हमारा दिन कैसा रहेगा ये पता चल जाए तो हम कुछ सावधानियां बरतकर अपने दिन को और बेहतर बना सकते हैं. हम बता रहे हैं ये हफ़्ता (15 अप्रैल से 22 अप्रैल 2018) आपके लिए कैसा रहेगा.

मेष
इस सप्ताह के प्रारंभ में चन्द्रमा व्यय भाव में अपनी मित्र राशि में रहेगा. उसके साथ नीच राशि का बुध है. आपकी राशि में भाव में उच्च का सूर्य इस सप्ताह के प्रारंभ में ही आ जाएगा. वहां उसकी शुक्र के साथ युति रहेगी. गुरू सातवीं राशि में, सुख भाव में राहु, पिता और उच्च अधिकारियों  के स्थान पर केतु, भाग्य और धर्म स्थान पर शनि और मंगल की युति रहेगी. सप्ताह के प्रारंभ में आप बुद्धि और चतुराई से काम लेंगे, लेकिन लापरवाही और व्यय की अधिकता भी रहेगी. बाहरी या दूर के संबंधों से लाभ होगा. यात्रा की संभावना बनी रहेगी. सप्ताह के मध्य में फुर्ती, संवेदनशीलता, छोटी-छोटी बातें को दिल पर लेने की प्रवृत्ति, जल्दबाजी रहेगी. भौतिक संसाधनों का सुख बना रहेगा तथा दैनिक कार्यों में सहजता बनी रहेगी. सप्ताह के अंत में व्यक्तित्व का प्रभाव बढ़ेगा. साहस, परिश्रम तथा कुटुम्ब का लाभ मिलेगा. संचित धन में वृद्धि होगी. इस सप्ताह आपकी महत्वाकांक्षा बढ़ेगी. सार्वजनिक जीवन में यश मिलेगा. संतान की शिक्षा प्राप्ति में उन्नति होगी. विवाह प्रयासों में विलम्ब होगा. साहसिक कार्यों में भाग लेने का अवसर मिलेगा. भाग्य का सहयोग बना रहेगा. मन में उदारता और धार्मिक आस्था रहेगी. शत्रु सक्रिय रहेंगे और परेशान करने का प्रयास करेंगे.संबंध- दैनिक कार्यों में और व्यवहार में जीवनसाथी के साथ वैचारिक तालमेल का अभाव और वैवाहिक जीवन में असंतोष बना रहेगा. भाईयों और मित्रों से तालमेल कम रहेगा. जीवनसाथी की सलाह और महत्वाकांक्षा के कारण असुविधा रहेगी.

प्रोफेशन- राजकीय सेवा से धन लाभ होगा और प्रतिष्ठा मिलेगी. परिश्रम व्यर्थ भी जा सकता है. धन आगम सामान्य और नियमित रहेगा. पिता और उच्च अधिकारियों का उच्च अधिकारियों का सहयोग रहेगा, लेकिन असंतोष बना रहेगा. सार्वजनिक और राजनैतिक क्षेत्र के लोग उत्साहित रहेंगे.

स्वास्थ्य- नेत्र पीड़ा, जलजनित रोग, अचानक चोट, दुर्घटना, चर्मरोग, मानसिक समस्या, तंत्रिका तंत्र की समस्या परेशान कर सकते हैं.

करियर- शिक्षा प्राप्ति हेतु अनुकूल समय है. एकाग्रचित होकर प्रयास करें. बाधाओं को स्वयं पर हावी न होने दें.

वृषभ
इस सप्ताह की शुरुआत लाभ भाव में स्थित चन्द्रमा और नीच के बुध की युति के साथ हो रही है. भाग्य और धर्म स्थान पर केतु के प्रभाव रहेगा. सप्ताह के प्रारंभ में मन प्रसन्नचित रहेगा और मेहनत-पुरूषार्थ से धन लाभ होगा. नियमित और शुभ साधनों से धन आगमन होगा. सप्ताह के मध्य में स्वभाव में चिढ़चिढ़ापन, बात-बात पर विवाद और कठिनाइयों का सामना बुद्धि बल से करना पड़ेगा. शत्रु की सक्रियता परेशान करेगी. समझौते का प्रयास करेंगे. शत्रु नियंत्रण में आ जाएंगे. सप्ताह के अंत में विचारों में कल्पनाशीलता, कला और सौंदर्य का प्रभाव, साहित्य में रूचि रहेगी, लेकिन श्रम का अभाव रहेगा. जीवनसाथी का स्वास्थ्य परेशान करेगा. सप्ताह में बाहरी संबंधों का लाभ मिलेगा. व्यय की अधिकता परेशान करेगी. आपके पूर्वानुमान ठीक बैठेंगे.

संबंध- सप्ताह के प्रारंभ में प्रणय संबंधों से सुख और सहयोग मिलेगा. किसी महिला के सहयोग से धन लाभ होगा. जीवनसाथी का स्वास्थ्य कमजोर रहेगा, जिससे वैवाहिक जीवन में असंतोष रहेगा. कन्या संतान से मन प्रसन्न रहेगा.

प्रोफेशन- धन आगमन अच्छा होगा. व्यवसायिक बुद्धि से लाभ होगा. पिता-उच्च अधिकारियों-शासन-प्रशासन से असंतोष और परेशानी के साथ कुछ सफलता मिलेगी. आवश्यक धन की व्यवस्था हो जाएगी.

स्वास्थ्य- नेत्र पीड़ा, पैर की हड्डी की परेशानी, चोट-दुर्घटना का सामना करना पड़ सकता है. घात-अपघात का सामना करना पड़ सकता है. हृदय रोग, मानसिक परेशानी, रोग परेशान करने के बाद नियंत्रण में आ जाएंगे.

करियर- अध्ययन में खूब मन लगेगा. विद्या अध्ययन हेतु सहयोगात्मक वातावरण रहेगा. अपेक्षित शिक्षा अबाध गति से मिलेगी.

मिथुन
इस सप्ताह का प्रारंभ दशम भाव में चन्द्रमा और शत्रु राशि के बुध की युति के साथ हो रहा है. सातवें भाव में मंगल और शनि की युति है. विद्या-संतान के भाव में शत्रु राशि का गुरू और लाभ भाव में उच्च के सूर्य और शुक्र की युति रहेगी. सप्ताह के प्रारंभ में उच्च अधिकारियों से, पिता से सहयोग में असंतोष रहेगा. ज्ञान-विद्या-बुद्धि का उपयोग करने वाले लाभ में रहेंगे. महिलाओं का आपको सहयोग मिलेगा. सप्ताह के मध्य में संतान से विशेषकर कन्या संतान से सरुख मिलेगा. कुटुम्ब और पैतृक सम्पत्ति का सुख रहेगा, लाभ भी होगा. कुछ नया ज्ञान, धार्मिक-आध्यात्मिक, या अन्य अच्छे विचार जानने का अवसर मिलेगा. सप्ताह के अंत में धन प्राप्ति हेतु सृजनात्मक या नया कार्य करने का अवसर मिलेगा. बाहरी या दूर के संबंधों से लाभ मिलेगा. लंबी दूरी की यात्रा संभव है. शत्रु या रोग के कारण धन व्यय होगा. सप्ताह में भाई-बहनों के लिए अच्छा करने का मौका मिलेगा. कार्य, व्यवसाय, नौकरी में आप अपने स्वभाव के कारण अपने शत्रु स्वयं बना लेंगे. स्वभाव में उग्रता हावी रहेगी. धार्मिक आस्था और भाग्य का सहयोग रहेगा. आलस्य रहेगा.

संबंध- प्रणय संबंधों से लाभ और सुख मिलेगा. वैवाहिक जीवन में असंतोष का सामना करना पड़ेगा. जीवनसाथी धन की प्राप्ति में सहायक होगा. विवाद और टकराव टालने का प्रयास करें.

प्रोफेशन- कारोबार या नौकरी में परिश्रम के साथ-साथ जोखिम लेना पड़ेगा, लेकिन इससे आपको धन और प्रतिष्ठा प्राप्त होगी. बौद्धिक और शैक्षणिक क्षेत्र के व्यवसायी सफलता प्राप्त करेंगे. कलाकार धन और प्रतिष्ठा प्राप्त करेंगे. अचानक धन प्राप्ति संभव है.

स्वास्थ्य- जलजनित रोग, गले के ऊपर सिर तक चोट संभव है. सावधान रहें. शारीरिक और मानसिक परेशानी रहेगी. मुख के रोग, पैरों में तकलीफ और चोट दुर्घटना परेशान करेंगे.

करियर-शिक्षा हेतु उचित अवसर है. अच्छे प्रयास सफलता प्रदान करेंगे.

कर्क
इस सप्ताह के प्रारंभ में भाग्य भाव में चन्द्रमा और बुध की युति रहेगी. दशम भाव में उच्च का सूर्य और शुक्र की युति रहेगी. आपकी राशि में राहु और सातवें भाव में केतु रहेगा. चौथे भाव में गुरू रहेगा. इस सप्ताह के प्रारंभ में मन धार्मिक भाव और आत्मबल से भरा रहेगा. कथनी करनी का अन्तर कम होगा. मनोकामना पूर्ण करने का प्रयास करेंगे. बौद्धिक परीक्षा और प्रतियोगिता में अच्छा प्रदर्शन करेंगे. सप्ताह के मध्य में महत्वाकांक्षा और चिढ़चिढ़ापन ज्यादा रहेगा. उच्च अधिकारियों और शासन-प्रशासन में आपकी सलाह को स्थान मिलेगा. सप्ताह के अंत में थोड़े से प्रयास से ही धन प्राप्त होगा. निकट के लोगों का सहयोग मिलेगा. सप्ताह में पैतृक सम्पत्ति का सुख मिलेगा लेकिन असंतोष बना रहेगा. भाग्य का सहयोग रहेगा, लेकि यहां भी असंतोष बना रहेगा. शत्रु की सक्रियता परेशान करेगी. शत्रु पक्ष पर नियंत्रण बना रहेगा. बाहरी संबंधों से लाभ मिलेगा. धन शुभ कार्यों पर खर्च होगा एवं सेवा में, कार्य में आलस्य रहेगा.

संबंध- प्रणय संबंधों में सुख और लाभ के साथ-साथ तनाव भी मिलेगा. दाम्पत्य जीवन में असंतोष और तनाव बना रहेगा. वैवाहिक जीवन सामान्य रहेगा, लेकिन नकारात्मकता और वैचारिक मतभेद सामने आते रहेंगे.

प्रोफेशन- उच्च अधिकारी-शासन-प्रशासन-पिता का सहयोग मिलेगा पर असंतोष बना रहेगा. व्यवसायी अपने कार्यों से सम्मान पाएंगे. बौद्धिक क्षमता का उपयोग करने वाले मान और सम्मान पाएंगे. नौकरी में तनाव मिल सकता है पर बड़े समूह से जुड़कर कार्य करने वाले सफल होंगे.

स्वास्थ्य- अज्ञात भय, चोट-दुर्घटना का सामना करना पड़ सकता है. शारीरिक और मानसिक परेशानी बनी रहेगी. नेत्र रोग और निद्रा रोग परेशान कर सकते हैं. रोग आदि पर शीघ्र नियंत्रण हो जाएगा.

करियर- शिक्षा प्राप्ति हेतु अवसर ठीक है. मानसिक विकास होगा. दुर्व्यसनों से दूरी रखें, तो अच्छे परिणाम मिलेंगे.

सिंह
इस सप्ताह के प्रारंभ में चन्द्रमा और नीच के बुध की आपकी राशि से आठवें भाव में रहेगी. भाग्य भाव में उच्च का सूर्य और शुक्र की युति रहेगी. विद्या और संतान भाव में मंगल और शनि की युति रहेगी. सप्ताह के प्रारंभ में मन में धार्मिक आस्था, आचरण में शुद्धता और उदारता का भाव रहेगा. माता से दूरी या मतभेद सामने आ सकता है. यात्रा संभव है. बाहरी संबंधों का लाभ रहेगा. नजदीकी लोगों के सहयोग में कमी महसूस होगी. सप्ताह के मध्य में कार्य का निपटारा शीघ्रता से करने की हड़बड़ी रहेगी, लेकिन आपको भाग्य का सहयोग मिलेगा. यात्रा से धन लाभ होगा. विपरीत परिस्थिति में बुद्धि का सहारा मिलेगा. सप्ताह के अंत में परिश्रम की अधिकता रहेगी. उच्च अधिकारियों से सहयोग कम मिलेगा, लेकिन व्यवसाय में विस्तार की योजना पर कार्य होगा. माता का स्वास्थ्य परेशान कर सकता है. आपको इस सप्ताह ईश्वार का ध्यान मुसीबत में आने पर ही आएगा. लापरवाही और अनियमित तरीके से कार्य सम्पादित होंगे.

संबंध- प्रणय संबंध सुखद रहेंगे. प्रणय संबंध विवाह में बदल सकते हैं. वैवाहिक जीवन में उत्साह और सहयोग बना रहेगा.

प्रोफेशन- उच्च अधिकारियों-शासन-प्रशासन का सहयोग रहेगा. कार्यक्षेत्र में अधिकार बढ़ सकते हैं. धन लाभ निरन्तर रहेगा. आय-व्यय में असंतुलन रहेगा. ऋण लेना पड़ सकता है. आकस्मिक लाभ-हानि संभव है. एक से अधिक साधनों से धन आगमन होगा.

स्वास्थ्य- नेत्र रोग, चोट-दुर्घटना और त्वचा रोग परेशान करे सकते है पर रोग आदि पर शीघ्र नियंत्रण हो जाएगा.

करियर- उच्च और अच्छी शिक्षा प्राप्त करने का शानदार अवसर है.

कन्या
इस सप्ताह के प्रारंभ में सातवें भाव में चन्द्रमा और बुध की युति रहेगी. अष्टम भाव में उच्च का सूर्य और शुक्र की युति रहेगी. चौथे भाव में मंगल और शनि की युति रहेगी. सप्ताह के प्रारंभ में कार्यक्षेत्र में जीवनसाथी का योगदान महत्वपूर्ण रहेगा एवं जीवनसाथी की ओर से धन लाभ होगा. नजदीकी मित्रों का सहयोग रहेगा. सप्ताह के मध्य में स्वभाव में चिढ़चिढ़ापन, नकारात्मकता, उग्रता आने से सहयोग की कमी होगी. धन की कमी महसूस होगी, लेकिन परेशानी का सामना आसानी से कर लेंगे. सप्ताह के अंत में आसानी से धन प्राप्त होगा और धार्मिक आस्था बढ़ेगी. भाग्य का सहयोग मिलेगा. सप्ताह में शत्रु पक्ष पर नियंत्रण बना रहेगा, यात्रा संभव है.

संबंध- दाम्पत्य जीवन में कठिनाई का सामना करना पड़ सकता हैं. जीवनसाथी की बौद्धिक क्षमता का प्रभाव रहेगा इस कारण वैचारिक मतभेद भी सामने आएंगे. प्रणय संबंधों में सुख के साथ तनाव भी मिलेगा.

प्रोफेशन- पिता-उच्च अधिकारियों-शासन-प्रशासन के सहयोग में असंतोष रहेगा. लंबी यात्रा संभव है. अनेक साधनों से रूक-रूक कर धन प्राप्त होगा. कार्य, व्यवसाय में परिवर्तन की संभावना है. गुप्त रूप से भी धन प्राप्त होगा.

स्वास्थ्य- नेत्र रोग, चोट-दुर्घटना शंभव है. सावधान रहें. शारीरिक और मानसिक समस्या बनी रहेगी. पेट और पीठ में तकलीफ हो सकती है. रोग आदि पर नियंत्रण बना रहेगा.

करियर- शिक्षा रूकावट और भटकाव के बावजूद प्रयासों से सफलता प्राप्त होगी एकाग्रचित होने का प्रयास करें.

तुला
इस सप्ताह के प्रारंभ में छठे भाव में चन्द्रमा और बुध की युति, सातवें भाव में सूर्य और शुक्र की युति. आपकी राशि में गुरू, दशम भाव में राहु और चौथे भाव में केतु रहेगा. सप्ताह के प्रारंभ में सामाजिक बुराईयों का भय, धर्म का डर और कार्यों में शुद्धता बनी रहेगी. शत्रु की सक्रियता परेशान करेगी. व्यय की अधिकता रहेगी. बाहरी संबंधों से लाभ होगा. सप्ताह के मध्य में चिढ़चिढ़ापन और चतुराई का प्रभाव रहेगा. शारीरिक शिथिलता  रहेगी. कठोर परिश्रम से परिणाम मिल सकते हैं. सप्ताह के अंत में माता-पिता का कष्ट रहेगा. वरिष्ठों का सहयोग मिलेगा. परिवार में मतभेद रहेंगे. सप्ताह में असंतोष, आलस्य, स्वाभिमान का भाव रहेगा. शत्रु नियंत्रण में रहेंगे. व्यय की अधिकता रहेगी.

संबंध- जीवनसाथी का सुख और सहयोग बना रहेगा एवं जीवनसाथी के कारण धन लाभ भी होगा. दाम्पत्य जीवन में मधुरता आवेगी. प्रणय संबंधों में सुख और सहयोग बना रहेगा. वैवाहिक जीवन कुछ मन-मुटाव के बावजूद सुखद रहेगा.

प्रोफेशन- पिता और उच्च अधिकारियों से सहयोग मिलेगा. व्यवसाय के मुकाबले नौकरी करने वाले अधिक सफल होंगे. धन प्राप्ति होगी. लापरवाही के कारण व्यवसाय या नौकरी में परिवर्तन करना पड़ सकता हैं.

स्वास्थ्य- जलजनित रोग, नेत्र रोग, शारीरिक और मानसिक समस्या, चर्म रोग परेशान कर सकते हैं. रोग आदि पर शीघ्र नियंत्रण मिल जाएगा.

करियर- असुविधाओं के बावजूद शिक्षा प्राप्ति के प्रयास सफल होंगे.

वृश्चिक
इस सप्ताह के प्रारंभ में चन्द्रमा और बुध की युति आपकी राशि से पंचम भाव में होगी. भाग्य और धर्म भाव में राहु रहेगा. तीसरे भाव में मित्र राशि में केतु रहेगा. सप्ताह के प्रारंभ में बुद्धि, ज्ञान, विवेक, चतुराई और धार्मिक आस्था का प्रभाव अधिक रहेगा. भाग्य की सहायता मिलेगी. बौद्धिक क्षमता का लाभ मिलेगा. सप्ताह के मध्य में चिढ़चिढ़ापन रहेगा. शत्रु परेशान करेंगे लेकिन अपने आप नष्ट हो जाएंगे. भाग्य का अपेक्षित सहयोग नहीं मिलेगा. बाहरी संबंधों से लाभ होगा. यात्रा संभव है. व्यय की अधिकता रहेगी. सप्ताह अंत में महत्वाकांक्षा, कल्पना और भोग की इच्छा बढ़ेगी. भाग्य फिर सहायक होगा, जिससे सफलता मिलेगी. अहंकार त्यागें. सप्ताह में भोग और विलासिता पर व्यय होगा. संचित धन का व्यय होगा. आप अपने व्यवहार के कारण शत्रु तैयार कर लेंगे.

संबंध- प्रणय संबंधों में अपेक्षित सुख और लाभ मिलेगा लेकिन तनाव भी मिलने के कारण असंतोष का सामना करना पड़ेगा. प्रणय संबंध विवाह में बदल सकते है. जीवनसाथी के साथ सामंजस्य की कमी के चलते तनाव रहेगा.

प्रोफेशन- बौद्धिक क्षेत्र में कोई विषेष उपलब्धि के कारण धन लाभ और सम्मान मिलेगा, . बौद्धिक क्षमता से धन लाभ होगा या पुरस्कार मिलेगा.

स्वास्थ्य- जलजनित रोग, नेत्र रोग, चोट-दुर्घटना, छोटे-छोटे रोग, शारीरिक और मानसिक परेशानी बनी रहेगी. हालांकि रोग पर नियंत्रण बना रहेगा.

करियर- शिक्षा निर्विघ्न पूरी होगी. समय अनुकूल है. अच्छे प्रयास से वांछित सफलता मिलेगी.

धनु
इस सप्ताह के प्रारंभ में माता. भूमि और सुख के भाव में चन्द्रमा और बुध की युति रहेगी. आपकी राशि में मंगल और शनि की युति पहले से चवली आ रही है. विद्या-संतान भाव में सूर्य और शुक्र की युति है. लाभ भाव में वक्री गुरू है. सप्ताह के प्रारंभ में धर्म-कर्म में रुचि बढ़ेगी. बुद्धि, चतुराई और धैर्य से आपको सफलता मिलेगी. महत्वाकांक्षा बढ़ेगी. सप्ताह के मध्य में तुनकमिजाजी और चंचलता रहेगी. आय होगी लेकिन काफी परिश्रम करना पड़ेगा. सप्ताह के अंत में परिश्रम हेतु तत्पर रहना पड़ेगा. बुद्धि से शत्रु को परास्त करने में सफल रहेंगे. लंबी यात्रा होगी और बाहरी संबंधों का लाभ मिलेगा. व्यय की अधिकता रहेगी. सप्ताह में शत्रुओं की गलतियों के कारण आपको धन लाभ होगा. आलस्य का प्रभाव रहेगा. व्यय में लापरवाही रहेगी.

संबंध- प्रणय संबंधो में सुख के साथ तनाव भी झेलना पड़ेगा. प्रणय संबंधो में प्रेम या भावनात्मकता का अभाव और कर्तव्य भाव ज्यादा रहेगा. दाम्पत्य जीवन में विवाद और तनाव रहेगा, लेकिन सहयोग मिलेगा.

प्रोफेशन- बौद्धिक क्षमता, प्रतिभा और परिश्रम से पहचान और प्रतिष्ठा बनाने में सफल होंगे. कई साधनों से धन आगमन होगा. व्यवसाय में प्रगति होगी,. परिश्रम और योग्यता के अनुरूप सीधे और सरल तरीके से धन लाभ होगा. कलाकार अपनी प्रतिभा का अच्छा प्रदर्शन कर पाएंगे.

स्वास्थ्य- छोटे-छोटे रोग परेशान कर सकते हैं. नेत्र रोग, धातु और विषघात का भय बना रहेगा. रोग नियंत्रण में सफल होंगे.

करियर- परेशानियों के बाद शिक्षा प्रयास सफल होंगे. अधिक प्रयास की आवश्यकता महसूस होगी. विघ्न और बाधाओं को छोड़कर प्रयास करें.

मकर
इस सप्ताह के प्रारंभ में पराक्रम और भाई के भाव में चन्द्रमा और बुध की युति ऱहेगी. आपकी राशि में केतु और सातवें भाव में राहु है. माता, भूमि और सुख भाव में उच्च का सूर्य और शुक्र की युति है. कर्म भाव में गुरू है. सप्ताह के प्रारंभ में स्वभाव में गंभीरता, साहस और पराक्रम का प्रभाव रहेगा. धार्मिक कार्यों में रूचि रहेगी. भाग्य का सहयोग मिलेगा. सप्ताह के मध्य में वाद-विवाद रहेगा.  भौतिक संसाधनों का सुख मिलेगा. सप्ताह के अंत में भोग-विलास में मन लगेगा. कलात्मक कार्यों में रूचि रहेगी. सप्ताह में संचित धन व्यय हो सकता है. बाहरी स्थानों के संबंधों में लाभ मिलेगा. शत्रु नियंत्रण में रहेंगे.

संबंध- जीवनसाथी का सुख और सहयोग मिलेगा, लेकिन मतभेदों के कारण असंतोष बना रहेगा. प्रणय संबंधों से सुख और लाभ मिलेगा. जीवनसाथी से मतभेदों का प्रभाव आर्थिक दशा पर पड़ सकता है.

प्रोफेशन- उच्च अधिकारियों, शासन, प्रशासन के सहयोग में असंतोष रहेगा. द्रव्य, कीमती सुगंधित पदार्थ, सौंदर्य प्रसाधन, खाद्य पदार्थ के व्यवसायी प्रगति करेंगे. व्यवसाय में परिवर्तन संभव है. नौकरी में असंतोष बना रहेगा.

स्वास्थ्य- शारीरिक और मानसिक कष्ट बना रहेगा. रोग आदि पर नियंत्रण बना रहेगा.

करियर- शिक्षा प्राप्ति हेतु अनुकूल समय है. गंभीर प्रयास से अच्छी सफलता मिल सकती है.

कुंभ
इस सप्ताह के प्रारंभ में दूसरे भाव में चन्द्रमा और बुध की युति, भाग्य स्थान पर गुरू, पराक्रम भाव में उच्च का सूर्य और शुक्र की युति रहेगी. लाभ भाव में मंगल और शनि की युति रहेगी. सप्ताह के प्रारंभ में धर्म सम्मत और बहुत सटीक किस्म के निर्णय लेंगे.  कुटुम्ब से वाद-विवाद होगा. शत्रु स्वयं अस्त हो जाएंगे. शत्रु और रोग से लड़ने में धन का व्यय होगा. सप्ताह के मध्य में दुस्साहस और परिश्रम की अधिकता रहेगी, लेकिन आप बुद्धि का प्रयोग करेंगे. किसी संकट में पड़ने का भय रहेगा. सप्ताह के अंत में अपनी ही धुन में रहेंगे. विलासपूर्ण व्यवहार करेंगे. पिता और उच्च अधिकारियों  के सहयोग की कमी रहेगी. सप्ताह में शत्रु ही नहीं मित्र भी भयभीत रहेंगे. भाईयों का सुख मिलेगा. धन संचय में कुछ सफलता मिलेगी. व्यय की अधिकता रहेगी. बाहरी संबंधों से लाभ मिलेगा.

संबंध- जीवनसाथी की महत्वाकांक्षा बढ़ेगी. वैवाहिक जीवन सुखद रहेगा. प्रणय संबंधों से सुख और लाभ मिलेगा.

प्रोफेशन- भाग्य से अधिक पुरूषार्थ का लाभ मिलेगा. आकस्मिक धन लाभ हो सकता है.

स्वास्थ्य- मुख संबंधी रोग, मौसम संबंधित रोग, शारीरिक और मानसिक परेशानी रहेगी. कमर के निचले हिस्से में तकलीफ रह सकती है. चोट-दुर्घटना का भय रहेगा. रोग प्रबल होने पर भी नियंत्रण में आ जाएगा.

करियर- शिक्षा हेतु उपयुक्त समय है. बाधा और परेशानियों की अनदेखी करके प्रयास करें, अच्छी सफलता मिल सकती हैं.

मीन
इस सप्ताह के प्रारंभ में आपकी राशि में चन्द्रमा और बुध की युति है. कर्म स्थान पर मंगल और शनि की युति है. विद्या-संतान भाव में शत्रु राशि में राहु और लाभ भाव में मित्र राशि में केतु है. सप्ताह के प्रारंभ में आचरण में शुद्धता, बौद्धिक दक्षता, विवेक शक्ति का उपयोग, चतुराई का प्रभाव स्वभाव में बना रहेगा. सप्ताह के मध्य में आपकी कथनी और करनी समान रहेगी. फुर्ती और नाराजगी भी रहेगी. सप्ताह के अंत में गंभीरता बढेगी. परिश्रम की अधिकता रहेगी. सहनशीलता और कल्पनाओं का प्रभाव बना रहेगा. कला और बौद्धिक क्षेत्र में प्रदर्शन अच्छा रहेगा. धार्मिक आस्था रहेगी पर धर्म का पालन अपने तरीके से करेंगे. भाग्य का सहयोग मिलेगा. सप्ताह में प्रत्यक्ष शत्रु के सामने कायरता दिखाने की डरपोक प्रवृत्ति रहेगी. पराक्रम और परिश्रम से सफलता मिलेगी. जीवन स्तर में सुधार आएगा. शत्रु परेशान करेंगे, जिन्हें आप बुद्धि बल से परास्त करने में सफल होंगे. शत्रुओं के कारण लाभ भी होगा. व्यय की अधिकता रहेगी. बाहरी संबंधों का लाभ मिलेगा.

संबंध- प्रणय संबंधों से सुख और लाभ मिलेगा. प्रणय संबंध विवाह में परिवर्तित हो सकते हैं. दाम्पत्य जीवन में मधुरता बनी रहेगी. प्रणय संबंधों के कारण तनाव और परेशानी भी आ सकती है.

प्रोफेशन- आकस्मिक गुप्त रूप से धन लाभ हो सकता है. उच्च अधिकारियों  से अपेक्षित सहयोग में असंतोष रहेगा. धन रूक-रूक कर प्राप्त होगा.

स्वास्थ्य- आकस्मिक चोट-दुर्घटना का सामना करना पड़ सकता है. रोग आदि पर नियंत्रण करने में सफल होंगे.

करियर- शिक्षा प्राप्ति हेतु किए गए प्रयासों में सफलता मिलेगी. अभाव और दिक्कत के बावजूद सफलता मिलेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here