हिंदी न्यूज़ – अब Smoking छोड़ने में फेसबुक करेगा आपकी मदद!

0
1


अब Smoking छोड़ने में फेसबुक करेगा आपकी मदद!

रिसर्च के लिए 500 प्रतिभागी शामिल रहे, जिनकी औसत आयु 21 साल रही और इसमें से करीब 87 फीसदी नमूने रोजाना धूम्रपान करने वालों के लिए गए




Updated: May 26, 2018, 10:09 AM IST

सोशल नेटवर्किंग कंपनी फेसबुक के जारी किए गए स्मोकिंग छोड़ने के कार्यक्रम में बाकी ऑनलाइन स्मोकिंग छोड़ने के कार्यक्रमों की तुलना में धूम्रपान को छोड़ने की 2.5 गुना ज्यादा संभावना नजर आई है. एक रिसर्च का नतीजा बताता है कि युवा धूम्रपान छोड़ने के इलाज के लिए साक्ष्य आधारित इलाज जैसे चिकित्सा, काउंसलिंग या फोन आधारित छोड़ने के सुझाव को कम पसंद करते हैं. परिणामस्वरूप सोशल मीडिया आधारित कार्यक्रम धूम्रपान छोड़ने की सेवाओं की पहुंच को विस्तार दिया जा सकता है.

रिसर्चर्स ने कहा कि इसका इस्तेमाल खास तौर से युवा के बीच अल्पकालिक सकारात्मक व्यवहार परिवर्तन में प्रभावी सहयोग के तौर पर कर सकते हैं. युवा में पहुंच और इलाज एक चुनौतीपूर्ण विषय है. सैन फ्रांसिस्को कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के सहायक प्रोफेसर डेनियल रामो ने कहा कि हमने पाया कि हम दुर्लभ आबादी तक पहुंच सकते हैं और अच्छा काम कर सकते हैं.

रामो ने कहा कि सोशल मीडिया वातावरण का तंबाकू के इलाज के औजार के तौर पर प्रयोग हो सकता है, यहां तक कि इसे नहीं छोड़ने वालों के लिए भी. इस शोध का प्रकाशन पत्रिका ‘एडिक्शन’ में किया गया है. इसमें 500 प्रतिभागी शामिल रहे, जिनकी औसत आयु 21 साल रही और इसमें से करीब 87 फीसदी नमूने रोजाना धूम्रपान करने वालों के लिए गए.

इस प्रतिभागियों ने 90 दिन के टोबैको स्टेट्स परियोजना कार्यक्रम में भाग लिया, जिसमें उन्हें धूम्रपान छोड़ने की तत्परता के मुताबिक निजी फेसबुक समूहों में बांटा गया. परिणामों से पता चला है कि प्रतिभागियों में तीन महीने के नियंत्रण की तुलना में धूम्रपान पर जैवरासायनिक रूप से संयम बरतने में 2.5 गुना की पुष्टि हुई है और यह संयम लंबे समय बाद उन लोगों में पैदा हुई है जो अन्य की तुलना में धूम्रपान छोड़ने को तैयार हुए हैं.ये भी पढे़ें- फोन से contacts डिलीट हो जाएं तो ऐसे चुटकियों में GMAIL से करें रिकवर
               अब WhatsApp मेसेज भेजकर पता लगाएं, दवा असली है या नकली

News18 Hindi पर Jharkhand Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Tech News in Hindi यहां देखें.

और भी देखें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here